Breaking News

छात्रों के लिए जारी हुए नए नियम, 12 वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए तैयारी

12 की परीक्षा के लिए कलेक्टर से मांगे 15 सौ टीचर, कोरोना सर्वे में लगे हैं टीचर
एमपी बोर्ड की १२ वीं की परीक्षा में नया पेंच, कई परीक्षा केंद्र केन्टोमेंट झोन में
इंदौर ब्यूरो
. कोरोना वायरस संक्रमण के चलते 12वीं बोर्ड परीक्षा बीच में ही रोक दी थी। अब बचे हुए पेपर 9 जून से होना हैं। शहर में 131 परीक्षा केंद्र है। ऐसे में कई परीक्षा केंद्र अब केंटोनमेंट झोन में है। इनका पता किया जा रहा है ताकि इन्हें यहां से बदला जा सकें। इनकी बजाए नए केंद्र बनाएं जाएंगे। इंदौर जिला शिक्षा अधिकारी ने उन शिक्षक कर्मचारियों को कलेक्टर से वापस मांगा है जो फिलहाल कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव कार्य के सर्वे में लगे है।


डीईओ राजेंद्र मकवानी ने बताया कि कोरोना वायरस सर्वे में करीब 1500 शिक्षक कार्य कर रहे हैं। बोर्ड परीक्षाएं 9 जून से तय हो चुकी है। अब हम कलेक्टर को हमारे शिक्षक-कर्मचारियों को मुक्त करने के लिए लिख रहे हैं, क्योंकि इन शिक्षकों में से कई शिक्षकों की ड्यूटी बोर्ड परीक्षा में लगी हुई थी।
मकवानी ने बताया सभी परीक्षा केद्रों को परीक्षा शुरू होने से पहले सैनिटाइज किया जाएगा ताकि किसी भी तरह से संक्रमण फैलने का डर नहीं रहे। माशिमं द्वारा आयोजित 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए गाइडलाइन जारी की गई है, जिसके तहत परीक्षा देने आने वाले विद्यार्थी, शिक्षक आदि सभी स्टाफ की थर्मल स्क्रीनिंग होगी। विद्यार्थी इस स्क्रीनिंग में फेल हो जाता है, तो उसे अन्य विद्यार्थियों के साथ नहीं बैठाया जाएगा। अगर कोई विद्यार्थी क्वॉरंटीन सेंटर में या फिर संक्रमित है, तो उसे पूरक परीक्षा में बचे हुए पेपर देने का मौका दिया जाएगा। संयुक्त संचालक लोक शिक्षण मनीष वर्मा ने बताया कि 9 जून से बोर्ड परीक्षा शुरू हो रही है। बचे हुए पेपर के लिए आयोजित इस परीक्षा में कोविड-19 संक्रमण को लेकर विशेष गाइडलाइन बनाई गई है परीक्षा केंद्र पर सामाजिक दूरी को ध्यान में रखते हुए परिक्षार्थियों को दूर-दूर बैठाना होगा। अगर सेंटर में कक्ष कम पड़ते हैं तो सब-सेंटर बनाया जाएगा। यह सब-सेंटर, सेंटर के नजदीक ही लगा होना चाहिए। केंद्र पर सेनेटाइजर रखना होगा, ताकि हर एक परिक्षार्थी को हाथ धुलाकर ही प्रवेश दिया जा सके। परिक्षार्थी के मुंह पर मास्क लगा होना भी अनिवार्य किया गया है। इसके साथ ही सेंटर बदलाव कलेक्टर की अनुमति के बाद ही होगा।


Check Also

सिंधिया का ताना -15 महीने कमलनाथ केवल अपनी कुर्सी बचाने की फिक्र करते रहे

THE SPECIAL NEWS .COM मंत्रीमंडल विस्तार के बाद मीडिया के सामने आए सिंधिया ने इशारों …

उषा ठाकुर ने जिसे हराया, उसका राजनैतिक जीवन खत्म

THE SPECIAL NEWS .COM अब तक तीन बार बनी विधायक, तीनों बार नए क्षेत्र से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *