Breaking News

दिल्ली-एन सी आर में बढ़ते प्रदूषण की मुख्य वजह पराली जलाने की समस्या से निबटने के लिए केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने कई कदम उठाए, 2018 की समान अवधि की तुलना में पराली जलाने के मामलों में अब तक 12.01 प्रतिशत की कमी

द स्पेशल न्यूज़// संवाददाता// नयी दिल्ली // केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने खेतों में फसलों के अवशेष-पराली जलाने की समस्‍या से निबटने के लिए कई प्रभावी कदम उठाए हैं। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् आईसीएआर की प्रयोगशाला की ओर से 04 नंवबर, 2019 को जारी बुलेटिन संख्या 34 के अनुसार 2018 की समान अवधि की तुलना में पराली जलाने के मामलों में अब तक 12.01 प्रतिशत की कमी आई है। उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब में इस वर्ष अब तक पराली जलाने के मामलों में क्रमशः 48.2 प्रतिशत, 11.7 प्रतिशत और 8.7 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है। इन तीनों राज्यों में 01 अक्तूबर, 2019 से 03 नवंबर, 2019 के बीच पराली जलाने के कुल 31,402 मामलों की जानकारी प्राप्त हुई। पंजाब में 25366, हरियाणा में 4414 और उत्तर प्रदेश में ऐसी 1622 घटनाएं हुई।

Check Also

मैदे से बने पदार्थ से करें परहेज

स्वास्थ्य के लिए कई पदार्थ हानिकारक हो सकते है। ऐसा ही एक पदार्थ है मैदा। …

नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेले के दौरान प्रकाशन विभाग के स्टॉल पर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अपर सचिव अतुल कुमार तिवारी

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अपर सचिव अतुल कुमार तिवारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *