Breaking News

देश के उत्तरी क्षेत्र के प्रमुख जलाशयों के जलस्तर में कमी आई 

नयी दिल्ली ब्यूरो// देश के  91 प्रमुख जलाशयों में 120.921अरब घन मीटर जल का संग्रहण आंका गया। यह इन जलाशयों की कुल संग्रहण क्षमता का 75 प्रतिशत है। 27 सितंबर 2018 को समाप्‍त हुए सप्‍ताह में यह 76 प्रतिशत था। 04 अक्‍टूबर, 2018 को समाप्त सप्ताह के दौरान यह पिछले वर्ष की इसी अवधि के कुल संग्रहण का 113 प्रतिशत तथा पिछले दस वर्षों के औसत जल संग्रहण का 104  प्रतिशत है।

उत्तरी क्षेत्र

उत्तरी क्षेत्र में हिमाचल प्रदेश, पंजाब तथा राजस्थान आते हैं। इस क्षेत्र में 18.01 बीसीएम की कुल संग्रहण क्षमता वाले छह जलाशय हैं, जो केन्द्रीय जल आयोग (सीडब्यूसी) की निगरानी में हैं। इन जलाशयों में कुल उपलब्ध संग्रहण क्षमता 16.53 बीसीएम है, जो इन जलाशयों की कुल संग्रहण क्षमता का 92 प्रतिशत है। पिछले वर्ष की इसी अवधि में इन जलाशयों की लाइव संग्रहण क्षमता 82 प्रतिशत थी। पिछले दस वर्षों का औसत संग्रहण इसी अवधि में इन जलाशयों की कुल संग्रहण क्षमता का 82 प्रतिशत था। इस तरह देखा जाए तो पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में चालू वर्ष में जल संग्रहण बेहतर है और पिछले दस वर्षों की इसी अवधि के दौरान रहे औसत संग्रहण से भी अच्‍छा रहा है।

Check Also

विश्व तपेदिक दिवस स्‍वास्थ्य मंत्रालय ने मनाया

द स्पेशल न्यूज़ / दिल्ली ब्यूरो / 2025 तक देश में तपेदिक को खत्म करने …

CBIP Award to PFC

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *