बाबा की पालकी का पूजन करने के लिए लगी भक्तों में होड़

इंदौर . केंद्रीय सांई सेवा समिति के तत्वावधान में आयोजित 27 दिन 27 जगहों से निकलने वाली प्रभातफेरी सोमवार को एरोड्रम रोड़ स्थित अशोक नगर से निकाली गई। सांई बाबा की प्रभातफेरी में सैकड़ों सांई भक्त शामिल हुए। अशोक नगर से निकली बाबा की पालकी को सांई भक्तों ने रंग-बिरंगे गुब्बारों और फूलों से सजाया गया था।
श्रीकेंद्रीय सांई सेवा समिति से जुड़े  संगीता सुरेंद्र पाठक, चंदू कुंजीर, मनीष जायसवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि सोमवार को अशोक नगर से सुबह 5 बजे हजारों सांई भक्तों ने बाबा की पालकी का पूजन कर सांई भक्तों ने सांई बाबा की प्रभातफेरी निकाली। बाबा की पालकी जिस-जिस स्थान से निकली वहां के रहवासियों ने बाबा की आरती कर आशिर्वाद मांगा। रहवासियों ने पालकी की अगवानी के लिए अपने घरों और मुंडेरों पर आकर्षक विद्युत सज्जा के साथ-साथ दीपक और रांगोली सजाकर पालकी और सांई भक्तों का फूलों से स्वागत किया। प्रभातफेरी में बाबा के भजनों की प्रस्तुति से संपूर्ण माहौल सांईमय हो गया था। भजनों की धुन पर सांई भक्त प्रभातफेरी में नाचते-झूमते प्रभातफेरी चल रहे थे। बाबा की प्रभातफेरी जिस भी स्थान से निकली वहां भक्त प्रभातफेरी में शामिल होते गए।  जिसमें सैकड़ों महिला, पुरूष और बच्चे शामिल हुए। जो बाबा के भजनों पर पालकी के आगे-आगे नाचते-थिरकते हुए चल रहे थे।  भजन गायकों ने बाबा के भजनों की प्रस्तुति देकर पूरे क्षेत्र को सांईमय कर दिया था। जगह-जगह रंगोली, दीप, घरों पर विद्युत सज्जा और विभिन्न मंचों से बाबा की पालकी और सांई भक्तों का स्वागत किया गया। प्रभातफेरी के आगे भजन गायक ध्रुव सेठी एवं कपिल कुमावत भजन गाते हुए मार्ग में चल रहे थे। जगह-जगह विभिन्न मंचों के माध्यम से पालकी यात्रा का स्वागत किया गया और महाप्रसादी का वितरण भी किया गया। सांई भक्तों ने बाबा के साथ होली खेल कर सभी भक्तों को रंग-गुलाल भी लगाया। प्रभातफेरी में ,प्रदीप यादव, गौतम पाठक, हरि अग्रवाल,समीर जोशी, रज्जू पंचौली, सहित सैकड़ों सांई भक्त शामिल हुए।
29 मार्च बुधवार को छत्रपति नगर से – सांई बाबा महोत्सव के तहत 27 दिनों तक सांई प्रभातफेरी निकाली जाएगी। बुधवार 29 मार्च को छत्रपति नगर से सुबह 5 बजे सांई बाबा की पालकी के पूजन के साथ प्रभातफेरी निकाली जाएगी।
संलग्न

Check Also

देश के पूर्वी क्षेत्र के प्रमुख जलाशयों के जलस्तर

नयी दिल्ली ब्यूरो// देश के  91 प्रमुख जलाशयों में 120.921अरब घन मीटर जल का संग्रहण आंका गया। यह इन …

देश के उत्तरी क्षेत्र के प्रमुख जलाशयों के जलस्तर में कमी आई 

नयी दिल्ली ब्यूरो// देश के  91 प्रमुख जलाशयों में 120.921अरब घन मीटर जल का संग्रहण आंका गया। यह इन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *