भाजपा नेताओं और प्रशासन की पटरी नहीं बैठ रही

THE SPECIAL NEWS .COM

पहले भी कलेक्टर और संभागायुक्त से नहीं मिले विचार
इंदौर ब्यूरो।
इंदौर के भाजपा नेताओं और प्रशासनिक अधिकारियों की पटरी काफी लंबे समय से नहीं बैठ रही है। इसका उदाहरण सामने है। गुरुवार को भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा से मुलाकात की और कहा कि इंदौर मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी है और रविवार को घोषित लॉक डाउन से इंदौर को छूट दी जाए, क्योंकि रक्षा बंधन का त्योहार है। इस संबंध में गृह मंत्री ने विजयवर्गीय से कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से बात करने के बाद ही कोई अंतिम निर्णय लिया जा सकेगा।

विजय वर्गीय की गृहमंत्री से लॉकडाउन को लेकर हुई चर्चा के बारे में जैसे ही इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह को जानकारी मिली, उन्होंने तत्काल जानकारी दी कि इंदौर में केंद्र सरकार की कोरोना संबंधी गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। यानी रविवार को लॉक डाउन से छूट नहीं मिलेगी।

निगमायुक्त थे तब भी थे पूरब-पश्चिम
मनीष सिंह जब इंदौर में नगर निगम आयुक्त थे। उस समय भी दो नंबर विधानसभा के नेताओं से उनकी पटरी नहीं बैठ रही थी। 6 महीने पहले भी कांग्रेस सरकार के समय संभाग आयुक्त आकाश त्रिपाठी के सामने धरने पर बैठे थे और उन्हें धरना स्थल पर आने का बोल रहे थे लेकिन त्रिपाठी नहीं आए। इस बात पर भी विजयवर्गीय काफी नाराज हुए थे और उन्होंने कहा था कि संघ के नेता इंदौर में नहीं होते तो शहर को आग लगा देता

Check Also

नहीं बच सकेगी तुलसी सिलावट की कुर्सी

THE SPECIAL NEWS .COM बिना चुनाव लड़े 6 माह ही रह सकते हैं मंत्री इंदौर …

सरकार का नया आदेश- अफसर निरीक्षण भी नहीं कर सकेंगे पेट्रोल पंप का

@ the special news पेट्रोलियम कंपनी के दबाव में अब इंस्पेक्टर राज को खत्म करने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *