अगले 8 माह में नहीं खर्च करें व्यर्थ, युद्ध सहित कई तरह की परेशानी

@ the special news

  • 10 फरवरी को षष्ठ ग्रह की युति के चलते भारत के लिए कठिन समय
    इंदौर ब्यूरो। अगल 8 माह भारत के लिए काफी कठिन समय है। जहां सरकार को कई मोर्चे संभालना होंगे वहीं जनता को भी परेशानी उठाना पड़ सकती है। बड़े आंदोलन सहित चीन व पाकिस्तान से युद्ध की संभावना बन रही।

ज्योतिषीय गणना के अनुसार फरवरी में 10 को 6 ग्रह षष्ठ ग्रह युति मनाएंगे। 26 दिसंबर 2020 को यह युति बनी थी तब कोरोना संक्रमण की शुरुआत हुई थी। यह बदलाव भारत के लिए बहुत ही कठिन समय लेकर आ रहे है। कई नेताओं को परेशानी आएगी। जनवरी तक बड़ा आंदोलन चलेगा। आंदोलन अगर उग्र रूप ले लेगा। कृषि बिल से कई नेताओं की मलाई खत्म हो गई है। जिन प्रदेश में चुनाव होंगे वहां पर कोई न कोई आंदोलन होंगे। एक तरह का धर्म युद्ध जैसी स्थिति बनेगी। नवंबर के अंत में गुरु एक बार फिर से वक्री होंगे। परिस्थितियां काफी विपरीत बनेगी। दिसंबर से फरवरी के बीच चीन कुछ न कुछ बड़ा एक्शन उनकी बार्डर या फिर पाकिस्तान के साथ मिलकर दोनों तरफ से करने जा रहा है। मंदी की चपेट में पूरा विश्व है। 18 अगस्त को 5 ग्रह की युति बनेगी। मई तक पाकिस्तान अधिग्रहित कश्मीर भारत में शामिल हो जाएगा। मर्ई 2021 के बाद स्थिति में सुधार होगा। आर्थिक महाशक्ति बनने की दिशा में भारत कदम बढाएगा।


राहु व शनि के मार्गी करेंगे बुद्धि भ्रमित

राहु व शनि का मार्गी होना नेताओं की बुद्धि को भ्रमित करेगा। आंतरिक और बाहरी स्तर पर सरकार को परेशानी उठाना पड़ेगी। तरह-तरह के आंदोलन होंगे। युद्ध भी झेलना पड़ेगा। अगले 8 माह पैसा संभालकर रखें। बहुत जरूरत हो तो खर्च करें। फालतु के खर्च बंद करें। परेशान नहीं होंगे।

Check Also

लेह स्वायत्त पर्वतीय विकास परिषद (लेह हिल काउंसिल) के प्रतिनिधियों व लद्दाख के सांसद जम्यांग टसरिंग नामग्याल ने केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी से मुलाकात की

द स्पेशल न्यूज़ // दिल्ली ब्यूरो // नयी दिल्ली में लेह स्वायत्त पर्वतीय विकास परिषद …

इस साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीपावली कहाँ और कैसे मनाई, जानें !

दीपावली के त्यौहार पर हमेशा की तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसलमेर में सेना के जवानों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *