अब फिर से सीधे जनता करेगी महापौर का चुनाव


इंदौर। नगर निगम के चुनाव को लेकर प्रदेश सरकार ने फिर एक बार निर्णय को बदलते हुए इंदौर नगर निगम के महापौर का चुनाव सीधे जनता से करवाने का प्रस्ताव पास कर दिया है। सरकार के इस नए प्रस्ताव से अब आगामी निगम चुनाव में महापौर और नगर पालिका के अध्यक्ष का चुनाव सीधे जनता द्वारा किया जाएगा।
मध्यप्रदेश में नगर पालिका नगर निगम के पार्षदों के चुनाव के बाद महापौर एवं नगर पालिकाओं के अध्यक्षों का चुनाव पार्षद दल द्वारा किया जाता था। जिसे दो दशक पहले बदलते हुए महापौर एवं नगर पालिका अध्यक्ष के चुनाव सीधे जनता द्वारा करवाया जाने लगा है। पिछले चार परिषदों में इंदौर नगर निगम में भी सीधे जनता द्वारा महापौर चुना गया जिसमें क्रमश: कैलाश विजयवर्गीय उमा शशि शर्मा कृष्ण मुरारी मोघे और मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ का चुनाव सीधा जनता द्वारा किया गया था। इस व्यवस्था में पिछली कमलनाथ सरकार ने परिवर्तन करते हुए महापौर का चुनाव पार्षद द्वारा करने की पुरानी व्यवस्था को फिर से लागू कर दिया था। कमलनाथ सरकार के प्रस्ताव के अनुसार इंदौर सहित प्रदेश की सभी नगर निगमों में महापौर का चुनाव नगर पालिका एवं नगर परिषद में अध्यक्षों का चुनाव पार्षदों द्वारा किया जाना था लेकिन इसमें फिर से संशोधन करते हुए भाजपा की शिवराज सरकार ने अब महापौर एवं नगर पालिका अध्यक्ष का चुनाव सीधे जनता द्वारा करवा जाने का प्रस्ताव पास कर दिया है।

Check Also

कोरोना के लिए सरकार के साथ स्कूली छात्रों का जन आंदोलन

प्रदेश भर में जुड़े 18 लाख से अधिक लोग, छात्रों की संख्या भी बढ़ रही …

नवरात्रि 17 से, इस तरह कन्याओं का पूजन कर प्रसन्न करें माताजी को

इंदौर ब्यूरो । 17 अक्टूबर से नवरात्र प्रारंभ होंगे। इसलिए नवरात्र पूजन, आराधना की विधि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *