कोरोना के लिए सरकार के साथ स्कूली छात्रों का जन आंदोलन

प्रदेश भर में जुड़े 18 लाख से अधिक लोग, छात्रों की संख्या भी बढ़ रही

 इंदौर। कोरोना का बाद अब धीरे-धीरे स्कूल खुलने लगे हैं लेकिन परिवार और सरकार छात्रों की सुरक्षा को लेकर अब भी सतर्क है। सरकार ने कोविड-19 के प्रोटोकॉल के अनुसार अब जनता के साथ स्कूलों में भी एक जन आंदोलन चलाया जा रहा है। इस जन आंदोलन में छात्रों को शपथ दिलाई जा रही है कि वे सभी दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे और अपने साथ अपने सहपाठी छात्रों की सुरक्षा तथा स्वास्थ्य का भी ध्यान रखेंगे।

 कोरोना के चलते किए गए लॉकडाउन के बाद अब धीरे-धीरे सब अनलॉक हो गया है। लेकिन धर्म स्थल और स्कूलों को अब खोला जा रहा हैं। धर्म स्थलों के लिए जहां गाइडलाइन जारी कर दी गई है,  वहीं स्कूलों सरकार जन आंदोलन से जोड़ रही है। सरकार द्वारा चलाए जा रहे जन आंदोलन में अब छात्र-छात्राओं को भी शामिल कर लिया गया है तथा छात्रों को शपथ दिलवाकर उनसे प्रमाण पत्र की मांग कर रही है। छात्रों द्वारा यह शपथ लेकर घोषणा की जाएगी कि वह कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन करेंगे। यह आंदोलन पूरी तरह से ऑनलाइन है। जन आंदोलन के तहत स्कूलों के लिंक भेजी गई है तथा सभी सरकारी स्कूल के इन छात्रों को भेजकर छात्रों से इसको प्रमाणित करवा रहे हैं। जानकारी के अनुसार प्रदेश भर इस सप्ताह में 18 लाख 19 हजार से अधिक लोग जन आंदोलन से जुड़ चुके हैं। अब हाई स्कूल तथा हायर सेकेंडरी स्कूल के छात्रों को भी लिंक भेजी जा रही है। छात्र भी इस पर मांगी गई जानकारी भरकर शपथ के साथ इसे वापस भेज रहे हैं। जन आंदोलन के तहत शासकीय स्कूल में पढऩे वाले सभी छात्रों को जोडऩे का उद्देश्य है।

स्कूल खुले लेकिन छात्र नहीं जाते

 पिछले माह 21 सितंबर से स्कूल तो खुल चुके हैं, लेकिन पालक कोई रिस्क नहीं लेना चाहते जिसके चलते पिछले 20 दिन से अधिक समय ये स्कूल तो खुल रहे लेकिन छात्र स्कूल नहीं जा रहे हैं।

 नियमित स्कूल के लिए भेज रहे लिंक

बड़ी कक्षाओं के छात्र भी स्कूल नहीं जा रहे हैं जिसके चलते सरकार द्वारा शुरू किए गए जन आंदोलन की लिंक स्कूलों द्वारा छात्रों को भेजी जा रही है ताकि वे कोरोना को लेकर जागरूक हो और सतर्कता के साथ स्कूल ज्वाइन कर सके।

Check Also

लेह स्वायत्त पर्वतीय विकास परिषद (लेह हिल काउंसिल) के प्रतिनिधियों व लद्दाख के सांसद जम्यांग टसरिंग नामग्याल ने केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री श्री मुख्तार अब्बास नकवी से मुलाकात की

द स्पेशल न्यूज़ // दिल्ली ब्यूरो // नयी दिल्ली में लेह स्वायत्त पर्वतीय विकास परिषद …

इस साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीपावली कहाँ और कैसे मनाई, जानें !

दीपावली के त्यौहार पर हमेशा की तरह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसलमेर में सेना के जवानों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *