जल शक्ति अभियान को जन आंदोलन बनायें, सभी शासकीय भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के निर्देश – आयुक्त श्री नरहरि

इंदौर / जल शक्ति अभियान को राष्ट्रीय स्तर पर जन-जन तक पहुँचाने का प्रयास किया जा रहा है । उद्देश्य बेहद जरुरी विषय जल का सही उपयोग और संरक्षण । आम लोगों में जागरूकता लाने के लिए पूरे देश में शासन द्वारा कार्यक्रम और कार्यशालाओं का लगातार आयोजन हो रहा है।
इसी कड़ी में इंदौर के ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में जल शक्ति अभियान के तहत राज्य शासन द्वारा राज्य स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें प्रदेश के नगरीय निकायों के अधिकारी और जनप्रतिनिधि मौजूद थे। इस अवसर पर आयुक्त जनसम्पर्क एवं नगरीय प्रशासन श्री पी. नरहरि ने कहा कि जल शक्ति अभियान और अक्षय जल संचय अभियान को जन आंदोलन बनायें। उन्होंने कहा कि बढ़ती आबादी और घटते भू-जल स्तर को देखते हुए ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग, तालाबों, कुओं और बावड़ियों का जीर्णोद्धार करना जरूरी हो गया है। उन्होंने कहा कि समय की माँग है कि जल संरक्षण और जल संवर्धन किया जाये। शहरों में उपयोग किये गये जल का पुन: उपयोग किया जाये। शहरी क्षेत्र में औसतन प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 135 लीटर पानी खर्च होता है। वर्षा का जल रोककर हम पूरे शहर भू-जल स्तर बढ़ा सकते हैं। रूफ वाटर हार्वेस्टिंग बहुत ही आसान, सरल और सस्ती है।

श्री नरहरि ने कहा कि भारत स्वच्छता मिशन की तरह इसे भी हमें गति प्रदान करना है। भारत स्वच्छता मिशन की तुलना में यह अभियान कम चुनौतीपूर्ण है। हम इस मिशन में निश्चित रूप से पूरी तरह कामयाब होंगे। राज्य शासन द्वारा रूफ वाटर हार्वेस्टिंग के लिये नगरीय निकायों के लिये 30 करोड़ रूपये बजट प्रावधान इस वर्ष किया गया है।

जल संरक्षण के लिए किये गए प्रयास से आने वाले समय में स्वच्छ जल की उपलब्धता सुनिश्चित हो पायेगी । मगर इसके लिए सभी लोगों को लगातार प्रयास करने होंगे ।

Check Also

कई राज्यों में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण 24 मई तक पूर्ण लॉकडाउन

द स्पेशल न्यूज़ //दिल्ली ब्यूरो/ कोविड-१९ संक्रमण तेज़ी से फ़ैल रहा है कोविड-१९ संक्रमण। देश …

भारत पूरी दुनिया में सबसे आगे, 17 करोड़ कोविड-19 वैक्सीन की डोज सबसे तेजी से लगाई

द स्पेशल न्यूज़ //दिल्ली ब्यूरो/ देश में कोविड-19 टीकाकरण ने 17 करोड़ का आंकड़ा छू …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *